Header Ads

Kitane safe hai aapke mobile banking apps.

कितने सेफ है आपके मोबाइल बैंकिंग apps |  आपको पता ही होगा की हर साल हैकर कई लाखो लोगो को निशाना बनाते है जिससे उनको लाखो का नुकशान हो जाता है | ये हैकर आपकी बैंक डिटेल्स को चुरा लेते है और इससे आपको बड़ा नुकशान हो जाता है | ऐसा केवल जब होता है जब या तो यूजर अपनी डिटेल को हैकर को खुद ही अनजाने में बता देता है या फिर मोबाइल बैंकिंग के apps के गलत use से होता है जिनके बारे में  आपको बताने जा रहा हु | इसलिए आज आपको मोबाइल बैंकिंग apps से जुडी खास बातो के  बारे में ध्यान दिलाना चाहता हूँ |
mobile-banking-app-security-issues
mobile-banking-app-security-issues

आज के टाइम में अपने सभी कामो को मोबाइल बैंकिंग apps की सहायता से करने लगे है लेकिन आपको पता है कि ये app आपके लिए कितने सेफ है ? इसलिए आपको मै इनको कैसे उपयोग में लिया जाता है इसके बारे में बताऊंगा | जिससे की आपको कभी भी कोई प्रॉब्लम नहीं हो | इन्हे आप कैसे use में लेते है और आप  किया गलती करते है साथ ही इनके use का सही तरीका क्या है | जिससे की आपको कोई नुकशान न हो |

# प्रमोशनल SMS :-
आज के टाइम में हैकर्स द्वारा आपको फ़साने के लिए सबसे ज्यादा use में  लिया जाना वाला तरीका स्पैम sms  या फिर प्रमोशनल sms होते है जिनमे आप आसानी से फंस जाते हो क्योकि इन sms में आपको तरह तरह के ऑफर दिए जाते है जिन पर यदि आप क्लिक करते हो तो आपके मोबाइल में मैलवेयर की डाउनलोडींग शुरू हो जाती है | उसके बाद ये मैलवेयर आपके बैंक डिटेल्स को हैकर तक पंहुचा देता है और आपको पता भी नहीं लगता |

इसे भी पढ़े :-


उपाय :- इन्ही सभी समस्याओं को नजर रखते हुए बैंक ने ऐसे  apps का निर्माण  किया है जो की इस तरह के मैलवेयर के ऊपर नजर रखे होते है | lifehaker और google administrator टूल वो टूल है जो स्पैम मेल को डिडक्ट करते है | लेकिन फिर भी आपके पास इस तरह के कोई भी sms आये तो उस पर क्लिक न करे |


# अवैध सॉफ्टवेयर :-
आप की -बाइंडर सॉफ्टवेयर  टेक्नोलॉजी के बारे में तो जानते ही होंगे यह वो सॉफ्टवेयर  टेक्नोलॉजी है जिसमे अनजान वेबसाइट से डाउनलोड हुए फाइल को निशाना बनाती है | यदि यह की-बाइंडर आपके मोबाइल में आ जाये तो आपके बैंक डिटेल्स को यह आसानी से हैकर के पास पंहुचा देगा | जिससे आपको बहुत बड़ा नुकशान हो सकता है |

उपाय :- आपको बता दू की आप मोबाइल बैंकिंग app कभी भी आपकी डिटेल्स को स्टोर नहीं करता | ये आपके पासवर्ड ,पिन ,और एटीएम की जानकारी को एनक्रिप्टेड करके भेजता है साथ ही आपका बैंक मोबाइल बैंक app की सारी डिटेल्स को एक खास टूल की मदद से साफ करता है जो की आपके लिए बहुत सही है |

इसे भी पढ़े :-


# WiFi का इस्तेमाल :-
यदि आप कही पर भी जाकर पब्लिक wifi का इस्तेमाल करते हो तो आप बहुत नुकशान में आ सकते हो क्योकि पब्लिक wifi में जब आप अपने मोबाइल बैंकिंग aap से कोई भी काम करते हो तो हैकर उस काम के बीच में अपने आप को  रख लेता है जिससे वह आपके पर्सनल डिटेल्स को ले लेता है जो की आपके बैंक अकाउंट को खाली करने के लिए काफी है |

उपाय :- वैसे तो आपको बता दू की बैंक दो तरह के ip एड्रेस  और डोमेन  पर  काम करता है जिसमे एक ब्लैक लिस्टेड और  वाइट लिस्टेड होता है जिसे आपका मोबाइल बैंकिंग app अनजान ip व डोमेन के सम्पर्क में न आये  | लेकिन आपको याद रखना चाहिए की आपको कभी पब्लिक wifi से कनेक्ट नहीं होना है यदि आप कभी कनेक्ट होते भी होते हो तो मोबाइल बैंकिंग app का इस्तेमाल नहीं करना है |


# नॉन-अपडेट बैंकिंग app :-
यदि आप बिना अपडेट वाले मोबाइल बैंकिंग app का इस्तेमाल करते हो तो आप हैकर के लिए बहुत बड़ा लूप छोड़ रहे हो  क्योकि बिना अपडेट सॉफ्टवेयर में वह जल्दी ही लूप को ढूढ़ लेता  है जो  की आपके लिए बहुत नुकशानदायक हो  सकता है |

इसे भी पढ़े :-


उपाय :- आपका अकाउंट जिस भी बैंक में होता है वह बैंक उन यूजर के एप्लीकेशन को चेक करता है जो ब्लैक लिस्ट में आ चुके है तो बैंक उनंके पास मोबाइल बैंकिंग app को अपडेट  करने  का एक मैसेज करता है जिससे आपको पता लग सके | आपके पास जब भी कोई ऐसा मैसेज आता है तो आपको उसे अपडेट कर लेना चाहिए |

# कमजोर पासवर्ड :-
यदि आप अपने मोबाइल app के ऊपर जो भी पासवर्ड लगाते हो अगर वही पासवर्ड आपने अपने मोबाइल बैंकिंग के app पर भी लगाया हुआ है तो आपको उसे जल्दी ही बदल देना चाहिए क्योकि मोबाइल को आपके आलावा कोई और use करता है तो आपके मोबाइल के सभी app को open कर सकता है क्योकि सभी का पासवर्ड समान है जिससे वह आपकी जानकारी को चुरा लेते है  साथ ही  आपके बैंकिंग पासवर्ड को भी चुरा सकते है जिससे आपको नुकशान हो सकता है |

उपाय :- आप कभी भी अपने मोबाइल पर कमजोर पासवर्ड न लगाये | मोबाइल बैंकिंग app में छह डिजिट का पासवर्ड लगाए क्योकि चार डिजिट का पासवर्ड कमजोर होता है |

# मोबाइल के अन्य app की सेटिंग :-
आपको पता ही होगा की आपके मोबाइल में बहुत से ऐसे apps होते है जो की आपके मोबाइल के डाटा को चोरी करते है | अगर आपको नहीं पता तो आपको बताता हूँ की जब आप अपने मोबाइल में कोई भी app को install करते हो तो वह मोबाइल के कांटेक्ट ,मैसेज ,दूसरे app के एक्सेस की परमिशन को लेता है जिसे आप allow कर देते हो जिससे आप उस app को परमिशन देते हो | जिसके कारण आपका मोबाइल बैंकिंग app भी उसमे आ जाता है और आपका डाटा चोरी हो जाता है |

उपाय :- आप जब भी कोई app को इनस्टॉल करते हो तो आप को देखना चाहिए की वह app कही आपके अन्य apps को एक्सेस करने की परमिशन तो नहीं मांग रहा अगर मांग रहा है तो आप उसे deny कर दे |

इसे भी पढ़े :-


# मोबाइल लॉक :- आपको हमेशा अपने मोबाइल को लॉक लगा कर रखना चाहिए जिससे अगर आपका  मोबाइल चोरी होता है या फिर कही पर खो जाता है तो आपकी पर्सनल जानकारी किसी हैकर के हाथ लग जाये तो आपको बहुत बड़ा नुकशान हो सकता है

उपाय :- यदि आप अपने में लॉक लगा कर नहीं रखते हो तो आपको उसमे लॉक लगा कर रखना चाहिए क्योकि बैंक तब तक मोबाइल बैंकिंग में एक्सेस नहीं देता जब तक मोबाइल से sms की पुष्टि न हो जाये इसलिए यदि आपको अपने मोबाइल को लॉक रखना चाहिए |

मै आशा करता हूँ कि आपको ये पोस्ट शायद पसंद आयी होगी अगर आपको मेरी ये पोस्ट आपको पसंद आयी है तो आप हमें सब्सक्राइब कर सकते हो साथ ही सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते हो जिससे आपको हमारी पोस्ट की नोटिफिकेशन सबसे पहले प्राप्त हो सके















About Author

No comments

Powered by Blogger.